हर माँ का दर्द बया करती है सोहा अली ख़ान की हालत

0
Soha Ali Khan's condition reflects the pain of every mother

Soha Ali Khan's condition reflects the pain of every mother

पटौती खानदान के नवाब अभिनेता सैफ अली खान अपनी करियर में नए तरह के एक्सपेरिमेंट कर रहे हैं इसलिए कुछ समय से वो अपनी फिल्मों को लेकर कई तरह के कर चुके है और फिल्मों में उनका लगातार अलग तरीके का कमबैक लोगों को पसंद भी आ रहा है अब न सिर्फ पॉजिटिव बल्कि नेगेटिव को लेकर भी सैफ अली खान कर रहे हैं एक्सपेरिमेंट ऐसे में उनकी ही बहन और बॉलीवुड एक्ट्रेस सोहा अली खान की बात करें तो सोहा अली खान ने भी बॉलीवुड में एक से बढ़कर एक फ़िल्में की.

अंबानी के घर भी बच्चन परिवार हुआ अलग-अलग, सास-बहु नहीं आये पास

अगर आपको याद हो तो जिस तरह से सोहा अली खान ने बॉलीवुड में फ़िल्में की थी अपने जमाने की माँ शर्मिला टैगोर की तरह वो अपनी नजाकत से लोगों को दीवाना बनाने की कोशिश कर रही थी लेकिन कुछ ही फिल्मों की बात सोहा ने अपना घर बसाया और इसके बाद वो सेटल्ड हो गई हो मुझसे दूर हो गई और धीरे धीरे उनकी फिल्मों से दूरी ने उन्हें बहुत सारे बदलाव अपनी जिंदगी में आने पर अलग दिशा में जाने के लिए मजबूर भी किया.

ख़ान परिवार की नफ़रत से परेशान हेलेन ने ये दर्दभरी क़ुर्बानी

खैर हाल ही में सोहा अली खान के इंटरव्यू फिर चर्चा में आया है जिसमें सोहा ने माँ बनने के बाद 2 साल तक खुद को भूल जाने की बात को स्वीकारा और ये भी कहा कि उनकी सबसे बड़ी गलती थी जी हाँ इस तरह से बचपन में जासूस बनने का शौक जवानी में सोहा अली खान को फ़िल्म इंडस्ट्री की तरफ लेकर आया था उन्होंने कहा था इस फ़िल्म पर माँ बनने के बाद वो बहुत कम नजर आई क्योंकि उन्होंने गलती की थी जी हाँ आपको बता दें प्राइम विडिओ की सिरीज़ हश हश में दिखाई देने को लेकर सोहा नजर आई थीं.

Soha Ali Khan's condition reflects the pain of every mother
Soha Ali Khan’s condition reflects the pain of every mother

लंबे समय बाद स्क्रीन पर नजर आने को लेकर वो काफी एक्साइटेड थीं तभी सोहा अली खान ने अपनी फैमिली लाइफ के बारे में बताया उन्होंने कहा कि वो किस तरह से माँ बनने के बाद अलग ही दिशा में चली गयी थी जी हाँ आपको यहाँ बताना चाहेंगे शर्मिला टैगोर की ये बेटी हैं शर्मिला अपने जमाने की टॉप ऐक्ट्रेस रहीं है ऐसे में उनकी बेटी का माँ बनने के बाद अपनी प्राथमिकता सिर्फ अपनी बेटी को मानना गलत नहीं होगा हर माँ के लिए यही होता है.

बच्चन परिवार में किसके पास है कितने करोड़ की सम्पत्ति

लेकिन स्क्रीन पर काफी समय बाद आने से वो थोड़ा हिचकिचाईं भी थी खैर आपको बताना चाहेंगे कि जिस तरह से माँ होना उनके लिए सबसे पहली प्राथमिकता रही महिला महान मल्टीटास्कर होती है कई लोग कहते थे लेकिन एक समय पर एक ही चीज़ वो कर सकती है ये उन्होंने एहसास किया दो काम में संतुलन नहीं बना पाती वो उन्होंने इस बारे में बताया जिससे लोगों को शायद यकीन ना हो ऐसे में 2 साल खुद को भूलकर उन्होंने गलती भी की थी.

उन्होंने बताया कि कैसे है वो 2 साल भूल गई थी और समझने में उन्हें वक्त लग गया था लेकिन वो खुश थीं कि उन्होंने प्राथमिकता अपने बच्चे को दी और कामकाजी माँ होना आसान नहीं होता सोहा अली खान ने अपना दर्द छलकाया कहा माँ होने के साथ काम करना आसान नहीं एक गिल्ट भीतर रहता है जैसे मैं अपनी बेटी को खाना खिलाती हूँ वैसे कोई और नहीं खिला सकता उसका पेट नहीं भरेगा या वो काम अच्छे से नहीं करेगी सब कुछ करना नामुमकिन है बच्चे के लिए कम्यूनिटी चाहिए.

अस्पताल में अमिताभ के आसु पोंछकर ये बोली जब आराध्या बच्चन

पेड टाइम के लिए मेरा होना जरूरी है हमें थोड़ा सा रिलैक्स करना चाहिए मैं खुश हूँ की मैं यहाँ हूँ और गर्व महसूस करती हूँ कि ये सिरीज़ मैंने इसका प्रमोशन किया गया मेरा यहाँ पर रहना जरूरी है लेकिन माँ होना मेरे सबसे बड़ी प्राथमिकता थी मैं इसे नहीं भूल सकती है फिलहाल आप इस खबर पर क्या कहेंगे हमें अपनी राय कमेंट करके जरूर बताएं बाकी और भी ऐसी ही अपडेट्स पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल और व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वॉइन करें.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *