कपूर खानदान में सम्पत्ति को लेकर हुआ झगड़ा

0
Fight over property in Kapoor family

Fight over property in Kapoor family

बॉलीवुड में जो परिवार जितना बड़ा है उतनी ही उनकी संपत्ति को लेकर विवाद भी अमिताभ बच्चन को लेकर आपने सुना होगा धर्मेंद्र को लेकर आपने सुना होगा देओल परिवार इस संपत्ति का भी कई बार जिक्र हुआ है आज आपको एक संपत्ति से जुड़ा हुआ किस्सा कपूर खानदान का बताने वाले हैं राज कपूर के बच्चो के बारे में राजकपूर के बेटे राजवीर इस दुनिया में नहीं है.

अभिनेता गोविंदा मुंबई में शिव सेना में शामिल हुए लेकिन इसके पीछे एक दुखद कहानी है

राजकपूर के बेटे राजीव कपूर की संपत्ति को लेकर के किस तरीके से कपूर खानदान में बवाल मचा था और ये बवाल इतना मचा कि कोर्ट तक इसकी दस्तक सुनाई दी फिर उसके बाद क्या हुआ और कैसे सम्पत्ति के बटवारे को लेकर भाई बहन आपस में लड़ते हुए नजर आए और ये कंट्रोवर्सी का हिस्सा बन गई आइये जानते हैं बॉलीवुड में कपूर खानदान अपने आपमें ही काफी बड़ा है.

ऐश्वर्या की बेटी आराध्या को लेकर शाहरुख़ ख़ान की हैं ये ख्वाहिश

और हर किसी के पास अपनी पर्सनल संपत्ति हर कोई करोड़ों की संपत्ति का मालिक है लेकिन इसके बावजूद परिवार में संपत्ति को लेकर कलेश की एक ऐसी रिपोर्ट सुनने में मिली जिसको जानने के बाद आप हैरान हो जाएंगे दरअसल ये किस्सा है रणधीर कपूर और उनकी बहन रीमा जैन का जी हाँ रणधीर को अब कपूर जो की ये करिश्मा और करीना के पिता हैं और रीमा जैन जो उनकी बुआ लगती है.

Fight over property in Kapoor family
Fight over property in Kapoor family

इन दोनों के बीच में प्रॉपर्टी को लेकर बड़ा मसला हुआ था और ये प्रॉपर्टी थी रणधीर कपूर के भाई राजीव कपूर की कपूर खानदान ने लगातार कई सारे अपने घर के सदस्य और खासकर अपने बॉलीवुड के एक्ट्रेस को खुद देखा है ऋषि कपूर की बात कर ले शम्मी कपूर शशि कपूर या फिर राजीव कपूर की राजीव कपूर राज़ कपूर के बेटे बता दें कि राजकपूर की तीन संतानें हुईं.

ऐश्वर्या-अभिषेक बच्चन ने अमिताभ और जया बच्चन को छोड़ विदेश में रहने का लिया फैसला

जिसमें से ये राजीव कपूर जो उनके छोटे बेटे थे उनका भी निधन 9 फरवरी साल 2021 को हार्ट अटैक की वजह से हो गया था अब राजीव कपूर की संपत्ति को लेकर काफी मसला खड़ा हुआ बता दें कि ये राजकपूर की पांच संतानों में महज केवल राजीव कपूर ही ऐसे ही थे जिनके पास अपना कोई परिवार नहीं था दरअसल आपको बता दें कि राजीव कपूर का उनकी पत्नी के साथ डिवोर्स हो गया था.

जिसकी वजह से ना तो उनका अपना कोई परिवार बचा और ना ही कोई संपत्ति का हकदार बस यहीं से शुरू हुआ संपत्ति का मसला दरअसल हुआ कुछ यूं की दिवंगत राजकपूर की कोई संतान नहीं थी अब इस वजह से रणधीर कपूर और उनकी बहन रीमा कपूर ने ये चाहा कि वो राजीव कपूर की संपत्ति को हड़प लें और इसकी वजह से राजीव कपूर की संपत्ति पर दोनों ने ही दावा ठोक दिया.

डिम्पल कपाड़िया ने खोले ये गंदे राज, सरेआम शर्मसार हुए अक्षय

यहाँ से भाई और बहन की तकरार शुरू हुई संपत्ति को लेकर के ये तकरार कोर्ट तक पहुंची और कोर्ट ने इस पर क्या फैसला सुनाया ये भी बताते हैं लेकिन उससे पहले ये भी जान लेते हैं कि आखिर राजीव कपूर की पत्नी कौन थी और आखिर कैसे इस संपत्ति का बंटवारा हुआ बता दें कि रणधीर कपूर और रीमा कपूर को ये दिखाना था कोर्ट के सामने की राजीव कपूर की अब संपत्ति का कोई हकदार नहीं है.

क्योंकि राजीव कपूर का कोई बेटा नहीं है और उनकी पत्नी से उनका तलाक हो चुका है इसके बारे में रणधीर और रीमा दोनों को ही सबूत कोर्ट में पेश करनी थी लेकिन सबसे बड़ा मसला यही खड़ा हुआ ये सपूत मिले ही नहीं दरअसल राजीव कपूर का डिवोर्स तो हुआ था इस बारे में केवल जानकारी मुंहबोली है यानी की पेपर्स में इसकी कोई जानकारी नहीं है राजीव कपूर ने अपनी पत्नी से तलाक लिया.

आराध्या बच्चन संग अब्राहम ख़ान पर अमिताभ ने दी बड़ी खुशखबरी

इसकी जानकारी लिखित रूप से नहीं है क्योंकि डिवोर्स के पेपर ही नहीं है यही वजह है कि ये पूरा मसला काफी ज्यादा लंबा चला मीडिया रिपोर्ट की मानें तो राजीव कपूर की प्रॉपर्टी में रणधीर कपूर और उनकी बहन रीमा कपूर ने अपना हक जताया लेकिन कोर्ट ने राजीव कपूर की पत्नी से तलाक के सबूत मांगे कोर्ट ने कहा कि अगर राजीव कपूर की पत्नी नहीं है या फिर शादी होते हुए उनसे तलाक ले लिया गया है.

तो वो सबूत लाएं बताये कि तलाक हो चुका है या फिर राजीव या उनकी पत्नी अलग अलग रहती है दोनों में बड़ा फर्क होता है अगर राजीव की पत्नी उनसे अलग रहती है फिर भी संपत्ति उनके नाम की जा सकती है ऐसे में मसला था की तलाक अगर हुआ है तो तलाक के कागजात कोर्ट के सामने रखे जाएं बता दें कि दिवंगत राजकपूर ने आरती सबरवाल से साल 2001 में शादी की थी.

76 साल की मुमताज़ को हुई इस ख़तरनाक बीमारी ने बिगाड़ा चेहरा

और महज 2 साल बाद साल 2003 में दोनों का तलाक हो गया दोनों का तलाक हुआ या नहीं इस बात को क्लियर नहीं कहा जा सकता है आरती सबरवाल से राजीव कपूर की कोई संतान नहीं हुई महज 2 साल में तलाक हुआ लेकिन तलाक के पेपर्स नहीं मिले तलाक के पेपर जो की रणधीर और रीमा को कोर्ट में जमा करवाने थे ये बताने के लिए की इन दोनों के बीच में अब कोई रिश्ता नहीं रहा.

जिस वजह से संपत्ति का कोई भी हकदार नहीं है लेकिन कोर्ट में तलाक के पेपर पहुंचे ही नहीं रणधीर और रीमा दोनों ही तलाक के पेपर जुटा ना पाये जिसकी वजह से कोर्ट में भी ये क्लियर नहीं हो पाया की आरती सबरवाल के साथ क्या सच में राजीव कपूर का तलाक हो चुका है बता दें कि कोर्ट जो कि सबूतों पर यकीन रखता है ऐसे में कोर्ट को केवल पेपर्स चाहिए थे.

गलत तरीके से भारत आई सीमा हैदर को लेकर आई बुरी खबर

ऐसे में केवल मुंहजबानी ये कहना ककि राजीव का आरती के साथ तलाक हो चुका है ये बात कोर्ट ने मंजूर नहीं की इस वजह से ये कहा जाता है की राजीव और उनकी पत्नी आरती सबरवाल के तलाक को क्लिअर नहीं कहा जा सकता बता दें कि अब रणधीर कपूर और रीमा कपूर के वकील ने कोर्ट में कहा की राजीव कपूर की संपत्ति पर ये दोनों भाई बहनों का हक है लेकिन कोर्ट ने कहा कि अगर तलाक के कागज आते हैं.

तभी संपत्ति के बंटवारे को स्वीकृति मिलेगी इस पर दोनों के वकील ने कोर्ट में कहा कि उन्हें नहीं पता की किस फैमिली कोर्ट ने तलाक का आदेश जारी किया था लेकिन राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर सिर्फ भाई बहन का ही हक है इसलिए तलाक के पेपर को पेश करने की छूट दी जानी चाहिए हालांकि आज तक इस पूरे मामले में क्या रिपोर्ट सामने आई है इस पर कोई खुलासा नहीं किया जा सकता है.

एक्ट्रेस कंगना रनौत के बाद सारा अली खान भी लड़ेंगी चुनाव

वेल ये सिर्फ दावे किए गए थे कि राजीव कपूर की जो संपत्ति है उस पर रणधीर कपूर ने अपना दावा है वो लगाया है उनकी बहन ने लगाया है लेकिन अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि आखिर संपत्ति किस के नाम की गई है फिलहाल आप इस खबर पर क्या कहेंगे हमें अपनी राय कमेंट करके जरूर बताएं बाकी और भी ऐसी ही अपडेट्स पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल और व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वॉइन करे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *