अमिताभ बच्चन ने गुस्से में आपा खोकर दोस्त पर निकाली भड़ास

0
Amitabh Bachchan lost his temper and lashed out at his friend

Amitabh Bachchan lost his temper and lashed out at his friend

अमिताभ बच्चन की अगर दोस्ती के किस्से सामने आए तो उसमें हमेशा अमजद खान का नाम भी जोड़ा जाता है अमजद खान वो एक्टर जिनके साथ अमिताभ बच्चन ने दोस्ती की फ़िल्म में और साथ ही दुश्मनी भी की शोले में देखा गया था कि कैसे गब्बर का रोल अदा करने वाले अमजद खान ने अमिताभ बच्चन को बिल्कुल नहीं बख्शा था फ़िल्म में किस तरीके से परेशान किया था.

मशीनों से खुलते है CM केजरीवाल के आलीशान घर के दरवाज़े

लेकिन असल जिंदगी की बात करें तो आप सर खान और अमिताभ बच्चन से अच्छे दोस्त कोई हो ही नहीं सकते थे बॉलीवुड में अमजद खान और अमिताभ बच्चन की दोस्ती की जो कहानी है वो काफी ज्यादा पॉपुलर है लेकिन एक ऐसा वक्त था अमिताभ बच्चन और अमजद खान की ये दोस्ती टूट गई सालों पुरानी इस दोस्ती को टूटने का सबसे बड़ा कारण जो है वो एक खबर मानी जा रही थी.

भारत छोड़ने वाले है अनुष्का-विराट, बच्चों संग लंदन शिफ्ट होने का फ़ैसला

दरअसल अमजद खान की अमिताभ बच्चन ने एक मदद की थी और इस मदद के बारे में अमिताभ नहीं जानते थे कि किसी अखबार की हेडलाइन ये बने लेकिन ऐसा हो क्या खबर लीक हो गई चार दीवारी के बाहर जब खबर चली गई जब वह अखबारों की सुर्खियां बनीं इसके बारे में आर्टिकल छपने अपने लगे तो अमिताभ को इसकी भनक लग गई.

Amitabh Bachchan lost his temper and lashed out at his friend
Amitabh Bachchan lost his temper and lashed out at his friend

अमिताभ ने सोचा कि अमजद खान ने इस खबर को वायरल किया है अमिताभ बच्चन की वो जो मदद थी वो उन पर भारी पड़ सकती थी इस वजह से वो नहीं चाहते थे की अमजद खान की जो उन्होंने चोरी छुपे मदद की है वो किसी को भी पता चले लेकिन अब ये मदद पता चली तब पूरी तरीके से हंगामा हो गया अमिताभ बच्चन अमजद खान पर गुस्साए न केवल गुस्सा किया.

कंगना रनौत जल्द करेंगी शादी…?

बल्कि दोस्ती भी टूट गई दरअसल इसके पीछे की क्या दिलचस्प कहानी है आइये जानते हैं तेरे जैसा यार कहाँ कहाँ ऐसा याराना साल 1981 फ़िल्म याराना अमिताभ बच्चन और दिवंगत एक्टर अमजद खान की इस मूवी का गाना दोनों की असल जिंदगी में भी काफी फिट बैठता है डायरेक्टर रमेश सिप्पी की फ़िल्म शोले में एक दूसरे के जानी दुश्मन बनने वाले अमजद खान और अमिताभ बच्चन रियल लाइफ में कभी अच्छे दोस्त हुआ करते थे.

लेकिन फिर अमजद खान बतौर डाइरेक्टर हिंदी फ़िल्म में अपने कैरिअर की शुरुआत की और फ़िल्म बनाई चोर पुलिस इस मूवी के कुछ दिनों बाद कुछ ऐसा हुआ जिसके बारे में लोग सोच भी नहीं सकते मूवी बनी थिएटर में जब रिलीज होने वाली थी तब कुछ ऐसा बवाल हुआ की दोनों की दोस्ती टूट गई दोनों अलग हो गए हमेशा के लिए ये जिगरी दोस्त कभी ना मिले जानते हैं कि आखिर इसके पीछे एक कारण क्या था.

अंकिता लोखंडे की सास ने बहू के साथ बदले तेवर

लेकिन सबसे पहले शोले के बारे में बात कर ले शोले में गब्बर की भूमिका निभाने वाले ऐक्टर अमजद खान ने बॉलीवुड में अपने पैर जमा लिए थे इसके बाद उनके दिमाग में आया कि अब डायरेक्शन में भी हाथ आजमाया जाए 1983 में उन्होंने डायरेक्शन करियर की शुरुआत की थी और शुरुआत में ही फ़िल्म बनाई चोर पुलिस इस मूवी में लीड रोल में खुद अमजद खान, शत्रुघ्न सिन्हा, परवीन बॉबी जैसे कई कलाकार मौजूद थे.

ये प्रॉपर ऐक्शन थ्रिलर फ़िल्म थी हालांकि बॉक्स ऑफिस पर फ़िल्म सौतन की वजह से ये क्लैश हो गई और चोर पुलिस ज्यादा कामयाबी हासिल कर नहीं पायी बताओ डाइरेक्टर हिंदी सिनेमा अमजद खान का सफर इतना आसान नहीं था और उनकी पहली फ़िल्म चोर पुलिस की रिलीज पर करीब डेढ़ साल तक तलवार लगी रही कारण था सेंसर बोर्ड ने मूवी को पास नहीं किया.

ये नन्हे बच्चे है अंबानी परिवार की चौथी पीढ़ी

दरअसल सेंसर बोर्ड ने मूवी को ना पास करने की खास वजह बताई सोशल मीडिया पर इसका एक इंटरव्यू भी है ऐक्टर ने बताया था कि मैं नहीं जानता कि मेरी फ़िल्म को रिलीज होने के लिए डेढ़ साल तक समय क्यों लगा सेंसर बोर्ड के पैनल में चोर पुलिस उलझ रही हैं उनका मानना था की फ़िल्म हिंसक सीन्स से भरी हुई है और इसमें कई आपत्तिजनक दृश्य भी मौजूद हैं लेकिन सही मायने में मेरी फ़िल्म में कुछ ऐसा था ही नहीं.

मुझे इस बात का पछतावा होता है की काश मेरी मूवी में और भी खून खराबा दिखाया जाता तो शायद ये चल सकती थी अब सवाल ये होता है कि अमजद खान की फ़िल्म सेंसर बोर्ड ने रोक दिया करीब डेढ़ साल के लिए फिल्म आई तो सौतन के साथ टकराई क्लैश होने की वजह से फिल्म ना चल पाई जिसका इंटरव्यू सोशल मीडिया पर वायरल है लेकिन इसमें अमिताभ बच्चन की दोस्ती आखिर कैसे टूटी ये भी किस्सा बड़ा दिलचस्प है.

पुलकित सम्राट और कृति खरबंदा की शादी के बाद सबसे हटकर सेलेब्रेट किया गया रिसेप्शन

आप बताते हैं कि आखिर अमिताभ बच्चन की दोस्ती टूटने का सिलसिला कहाँ से शुरू हुआ रिपोर्ट की मानें तो फ़िल्म चोर पुलिस की रिलीज को लेकर अमजद काफी परेशान थीं डायरेक्शन में ये उनकी पहली फ़िल्म थी तो डर भी था और उन दिनों अमिताभ बच्चन बॉलीवुड से ज्यादा राजनीति में काफी ऐक्टिव थे ऐसे भी अमजद खान ने सोचा कि अमिताभ उनके बड़े अच्छे दोस्त हैं.

राजनीति में सक्रिय है उस सेंसर बोर्ड से अपनी पैरवी लगाने की प्लानिंग बना ली अमिताभ की दोस्ती का फायदा उठाने के लिए अमिताभ बच्चन को अमजद खान ने कहा कि सेन्सर बोर्ड उनकी फ़िल्म को पास नहीं कर रही अपने दोस्त की मदद करते हुए बिग बी ने सेंसर बोर्ड से गुहार लगाई और अमजद खान की फ़िल्म उस वक्त पास हो गई.

प्रतीक्षा होन्मुखी और शहज़ादा धामी की गंदी हरकत आई सामने

लेकिन कुछ दिन बाद एक अखबार में अमजद और अमिताभ की इस बातचीत आप किस्सा छुप गया जिससे अमिताभ खफा हो गए और उन्होंने अमजद को मिलने के लिए बुलाया बताया जाता है की अमिताभ चोर पुलिस की रिलीज का कोई क्रेडिट लेना ही नहीं चाहते थे अमिताभ बच्चन नहीं चाहते थे कि सेन्सर बोर्ड से उन्होंने पैरवी लगवाई है इस फ़िल्म को रिलीज कराने के लिए ये बात किसी को भी पता चले.

तब जब अमिताभ के घर अफसर खान उनके बुलावे पर आए तो ऐक्टर ने पूछ लिया सवाल किया कि आखिर ये खबर मीडिया में कैसे हुई अमजद खान खुद इस मामले में पूरी तरह से अनजान थे और आश्चर्यचकित थे कहा जाता है कि इसके बाद अमिताभ बच्चन और अमजद खान की दोस्ती में दरार आ गई अमजद खान की चोर पुलिस को भले ही उतनी सफलता हासिल ना हुई हो.

सालों पहले हुई पंजाबी सिंगर दिलजीत दोसांझ की गुप चुप शादी, अब बच्चे का राज आया सामने

लेकिन इस फ़िल्म के नाम एक खास उपलब्धि दर्ज है दरअसल चोर पुलिस हिंदी सिनेमा की पहली ऐसी मूवी है जिसकी शूटिंग दुबई में हुई थी फिलहाल आप इस खबर पर क्या कहेंगे हमें अपनी राय कमेंट करके जरूर बताएं बाकी और भी ऐसी ही अपडेट्स पाने के लिए हमारे टेलीग्राम चैनल और व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वॉइन करें.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *